Indigenous Diet

12 Pins
 3y
Collection by
जामुन का साथ और बारिश का मौसम Nutrition, Amika, Nutritional Value, Food Science, Nutrition Science, Herbal Medicine, Diet, Antioxidants, Herbalism
जामुन का साथ और बारिश का मौसम - Aahar Samhita
जामुन का साथ और बारिश का मौसम
two cups of green tea on top of each other in front of some leaves and plants
मोरिंगा टी – सेहत के लिए वरदान सरीखी - Aahar Samhita
#AmikaChitranshi #dietitianAmika #Dietitian #DietTherepist #HerbalTea #Moringa #Fitness #Vitamin #minerals #Antioxidants #Research #COVIDー19 #Corona #Health #prevention #functionalfood #Food #brainhealth #detox #nutrition #chronicdiseases #cancer #tuberculosis #indegenousdiet #diseaseprevention #obesity #valueaddedproduct
green beans are laid out on a table with the name amoka written in it
सहजन की खूबियाँ क्या कहने - Aahar Samhita
सहजन की खूबियाँ क्या कहने
green leaves are growing in the grass
कुपोषण पर वार, बथुआ भी दमदार - Aahar Samhita
कुपोषण पर वार, बथुआ भी दमदार
बदलता मौसम हो या शाम की चाय का समय चना-चबैना-भूजा हमारी आहार परम्परा का हिस्सा है। सेहत के लिहाज से ये पोषण और स्वास्थ्य के लिए बहुत ही मुफीद है...   #diseaseprevention #localfood #diet #AmikaChitranshi #healthyeating #DietitianAmika #DietTherapist #IndigenousDiet #TastyTreasure #lifestyle #Bengalgram #Garlic #GreenChilli #Chutney Garlic, Healthy Eating, Disease Prevention, Quick Saves, Green Chilli, Local Food
बदलता मौसम हो या शाम की चाय का समय चना-चबैना-भूजा हमारी आहार परम्परा का हिस्सा है। सेहत के लिहाज से ये पोषण और स्वास्थ्य के लिए बहुत ही मुफीद है... #diseaseprevention #localfood #diet #AmikaChitranshi #healthyeating #DietitianAmika #DietTherapist #IndigenousDiet #TastyTreasure #lifestyle #Bengalgram #Garlic #GreenChilli #Chutney
several pictures of different types of food in a field
ऊँमी से freekeh तक - Aahar Samhita
ऊँमी से freekeh तक
white flowers with green leaves in the background and an english text on top of it
999: request failed
February 24, 2019: Amika Chitranshi posted images on LinkedIn
February 23, 2019: Amika Chitranshi posted images on LinkedIn Fruit, Dietician, Dietitian, Mango, Diversity
Amika Chitranshi on LinkedIn: "बेर...क्या आपके क्षेत्र में ये पाया या खाया जाता है...उसकी जानकारी यहां शेयर कर सकते हैं... https://lnkd.in/fSPFaTx http://bit.ly/amikfb http://bit.ly/amikIn http://bit.ly/amikaT #dietitianAmika #AmikaChitranshi #DietTherapist #Dietitian #Entrepreneurship #FoodServiceManagement #Nutrition #NaturesTreasure #TastyTreasure #jujube #indianplum #fruit #foodlovers #fooddiary #memoir #edible #foodiegram #lifestyle #eating #taste #health #diseaseprevention #fighthunger #zerofoodwaste #zerohunger #indigenous #biodiversity #diversity Atul Kumar Ridhima Saxena Golden Talk The Classical Times Meditating Journalism Weblicence Solutions Weblicence Solutions"
February 23, 2019: Amika Chitranshi posted images on LinkedIn
a basket filled with lots of green apples
महुआ एक लाभ अनेक - Aahar Samhita by Dietician Amika
महुआ एक लाभ अनेक महुआ जिसे बंगाली, गुजराती, मराठी और हिन्दी में महुआ, कन्नड़-हिप्पे (hippe), मलयालम-पूनामिलुपा (poonamilupa), उड़िया-महुला (mahula), तमिल-इलुप्पाई (iluppai), तेलगु -इप्पा (ippa) कहते हैं; आदिवासियों के लिए वरदान माना जाता है। आदिवासी समुदाय अपनी भूख से लेकर इलाज तक की जरूरतों को पूरा करने के लिए इसके तने की छाल, पत्तियों से लेकर फूल, फल, और बीज तक इस्तेमाल करते हैं...
Dt. Amika  Amika Chitranshi Fashion, Tops, Women
महुआ एक लाभ अनेक - Aahar Samhita by Dietician Amika
Dt. Amika Amika Chitranshi
the fruit on the tree is ready to be picked
लसोढ़ा है औषधीय गुणों की खान - Aahar Samhita by Dietician Amika
औषधीय गुणों की खान है लसोढ़ा लसोढ़ा जंगली पादप श्रेणि का गाँव मे प्रचलित फल है परंतु वहाँ पर भी यह मध्यम प्रचलन वाला फल है। पके फल का ज्यादा सेवन आदिवासी और गरीब परिवारों में ज्यादा देखा गया है। इसके अलावा इसका उपयोग उन परिवारों में देखने को मिलता है जो घरेलू नुस्खों के माध्यम से इसको औषधीय महत्व वाला मानते हैं
the fruit is cut in half and ready to be eaten
बड़हल - बड़ी समस्याओं का आसान हल - Aahar Samhita by Dietician Amika
बड़ी समस्याओं का आसान हल बड़हल मुख्यतः गाँव में एक और फल का चलन रहता है जिसे हिन्दी मे बड़हल और अन्य भाषों में अलग अलग नाम से जाना जाता है। बंगाली -देफल दहुआ, पंजाबी – धेऊ, कन्नड़- वोते हुली, मराठी – वोटोंबे, तमिल – इलागुसम, तेलुगू- कम्मा रेगू आदि नामों से जाना जाता है। बड़हल गर्मी के मौसम का गाँव में ज्यादा प्रचलित फल है। वर्गीकरण के आधार पर यह जंगली फलों की श्रेणी में आता है और देखने में यह छोटे कटहल जैसा लगता है