Vipul Bharvad
Vipul Bharvad
Vipul Bharvad

Vipul Bharvad

: पह्चान कफ़न से नही होती है कभी..!! लाश के पीछे का काफिला बयाँ करता है हस्ती को..!! : मुकाम वो चाहिए की जिस दिन भी हारू ,, उस दिन जीतने वाले की जीत से ज्याद