ज़िन्दगी

ज़िन्दगी

...जैसे किसी किताब की जिल्द से गिरकर आख़िरी सफ़े, गुम गए। #JSRudrāīs नामुराद...अब तो ये शेर भी हमसे मुकम्मल नही होते।

...जैसे किसी किताब की जिल्द से गिरकर आख़िरी सफ़े, गुम गए। #JSRudrāīs नामुराद...अब तो ये शेर भी हमसे मुकम्मल नही होते।

छाया/ चित्र शायरी संग्रह | रेख़्ता

छाया/ चित्र शायरी संग्रह | रेख़्ता

#urdupoetry

#urdupoetry

Hindi Marathi,Gujarati Hindi,Not Shayari,Not Quotes,Poetic Ahha,Gulzar Poetry,Ki Baat,Dil Ki,Shayri

Pinterest • The world’s catalogue of ideas
Search