Explore December and more!

Explore related topics

मुंगेली जिले के पंच-सरपंच छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे. जहाँ प्रेक्षा गृह में सहायक ग्रेड-2 श्री नरेंद्र शुक्ला ने उन्हें विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में बताया. प्रोजेक्टर पर उन्होंने विधानसभा सत्र के दौरान होने वाली कार्यवाही देखी. सदन के भीतर उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा.

मुंगेली जिले के पंच-सरपंच छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे. जहाँ प्रेक्षा गृह में सहायक ग्रेड-2 श्री नरेंद्र शुक्ला ने उन्हें विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में बताया. प्रोजेक्टर पर उन्होंने विधानसभा सत्र के दौरान होने वाली कार्यवाही देखी. सदन के भीतर उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा.

नया रायपुर स्थित नन्दन वन जंगल सफारी की सैर करने मुंगेली एवं जांजगीर-चांपा  जिले के पंच-सरपंच पहुंचे. जहाँ उन्होंने सफारी में हिरणों और बाघ को स्वच्छन्द विचरते देखा. भालू एवं नीलगाय देख वे बेहद हर्षित हुए. टाइगर ब्वाय चेंदरू की आकर्षक प्रतिमा ने उन्हें खूब लुभाया.

नया रायपुर स्थित नन्दन वन जंगल सफारी की सैर करने मुंगेली एवं जांजगीर-चांपा जिले के पंच-सरपंच पहुंचे. जहाँ उन्होंने सफारी में हिरणों और बाघ को स्वच्छन्द विचरते देखा. भालू एवं नीलगाय देख वे बेहद हर्षित हुए. टाइगर ब्वाय चेंदरू की आकर्षक प्रतिमा ने उन्हें खूब लुभाया.

नन्दन वन जंगल सफारी, जहाँ विशाल क्षेत्रफल में घने पेड़-पौधों के बीच विचरते वन्य प्राणी आकस्मिक दिख जाते हैं. बिलासपुर जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने यहाँ की सैर का आनन्द उठाया. सफारी प्रबन्धन के वाहन में घूमते उन्होंने बाघ, हिरन, नीलगाय और भालू देखा. मगरमच्छ को देखने का मौका भी मिला क्रोकोडायल पार्क में.

नन्दन वन जंगल सफारी, जहाँ विशाल क्षेत्रफल में घने पेड़-पौधों के बीच विचरते वन्य प्राणी आकस्मिक दिख जाते हैं. बिलासपुर जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने यहाँ की सैर का आनन्द उठाया. सफारी प्रबन्धन के वाहन में घूमते उन्होंने बाघ, हिरन, नीलगाय और भालू देखा. मगरमच्छ को देखने का मौका भी मिला क्रोकोडायल पार्क में.

जांजगीर-चांपा जिले के पंच-सरपंच छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे. जहाँ प्रेक्षा गृह में प्रोजेक्टर पर सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही देखी. विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में जाना. समिति बैठक कक्ष का अवलोकन किया. सदन के भीतर पहुंचना उनके लिए बेहद सुखद अनुभव रहा. जहाँ उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा.

जांजगीर-चांपा जिले के पंच-सरपंच छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे. जहाँ प्रेक्षा गृह में प्रोजेक्टर पर सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही देखी. विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में जाना. समिति बैठक कक्ष का अवलोकन किया. सदन के भीतर पहुंचना उनके लिए बेहद सुखद अनुभव रहा. जहाँ उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा.

जांजगीर-चांपा जिले के पंचायत प्रतिनिधि छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर पहुंचे. जहाँ उन्होंने हवा में उड़ती गेंद, जादुई पानी का नल, कुटुमसर गुफा, अनंत कुआं और मजाकिया दर्पण देख आनन्द लिया. छत्तीसगढ़ के संसाधन तथा बस्तर के वाद्य यंत्रों की मधुर आवाज ने उन्हें बेहद लुभाया. परिसर में लगे झूले पर झूलकर वे बहुत खुश नजर आए.

जांजगीर-चांपा जिले के पंचायत प्रतिनिधि छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर पहुंचे. जहाँ उन्होंने हवा में उड़ती गेंद, जादुई पानी का नल, कुटुमसर गुफा, अनंत कुआं और मजाकिया दर्पण देख आनन्द लिया. छत्तीसगढ़ के संसाधन तथा बस्तर के वाद्य यंत्रों की मधुर आवाज ने उन्हें बेहद लुभाया. परिसर में लगे झूले पर झूलकर वे बहुत खुश नजर आए.

मुंगेली जिले के पंच-सरपंच छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे. जहाँ प्रेक्षा गृह में सहायक ग्रेड-2 श्री नरेंद्र शुक्ला ने उन्हें विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में बताया. प्रोजेक्टर पर उन्होंने विधानसभा सत्र के दौरान होने वाली कार्यवाही देखी. सदन के भीतर उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा.

मुंगेली जिले के पंच-सरपंच छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे. जहाँ प्रेक्षा गृह में सहायक ग्रेड-2 श्री नरेंद्र शुक्ला ने उन्हें विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में बताया. प्रोजेक्टर पर उन्होंने विधानसभा सत्र के दौरान होने वाली कार्यवाही देखी. सदन के भीतर उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा.

नन्दन वन जंगल सफारी, जहाँ विशाल क्षेत्रफल में घने पेड़-पौधों के बीच विचरते वन्य प्राणी आकस्मिक दिख जाते हैं. बिलासपुर जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने यहाँ की सैर का आनन्द उठाया. सफारी प्रबन्धन के वाहन में घूमते उन्होंने बाघ, हिरन, नीलगाय और भालू देखा. मगरमच्छ को देखने का मौका भी मिला क्रोकोडायल पार्क में.

नन्दन वन जंगल सफारी, जहाँ विशाल क्षेत्रफल में घने पेड़-पौधों के बीच विचरते वन्य प्राणी आकस्मिक दिख जाते हैं. बिलासपुर जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने यहाँ की सैर का आनन्द उठाया. सफारी प्रबन्धन के वाहन में घूमते उन्होंने बाघ, हिरन, नीलगाय और भालू देखा. मगरमच्छ को देखने का मौका भी मिला क्रोकोडायल पार्क में.

छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे बिलासपुर जिले के पंच-सरपंचों ने प्रेक्षा गृह में प्रोजेक्टर पर सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही देखी. विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में जाना. सदन के भीतर पहुंचना उनके लिए बेहद सुखद अनुभव रहा. जहाँ उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा. सेंट्रल हाल का अवलोकन कर वे बेहद हर्षित हुए.

छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे बिलासपुर जिले के पंच-सरपंचों ने प्रेक्षा गृह में प्रोजेक्टर पर सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही देखी. विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में जाना. सदन के भीतर पहुंचना उनके लिए बेहद सुखद अनुभव रहा. जहाँ उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा. सेंट्रल हाल का अवलोकन कर वे बेहद हर्षित हुए.

छत्तीसगढ़ विधानसभा में व्यवस्थाओं, संचालन, संरचना के बारे में जानकर कोरबा जिले के पंचायत प्रतिनिधि बेहद गौरवान्वित हुए. प्रेक्षा गृह में संसदीय कार्यप्रणाली की जानकारी दी गई. साथ ही हैंडबुक भी दी गई, जिसमें विधानसभा के कामकाज की संक्षिप्त जानकारी मिली. सेंट्रल हाल का अवलोकन किया एवं सभागृह के भीतर जाने का अवसर भी मिला. जहाँ उन्होंने मुख्यमंत्री, विस अध्यक्ष, पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के संबंध में जाना.

छत्तीसगढ़ विधानसभा में व्यवस्थाओं, संचालन, संरचना के बारे में जानकर कोरबा जिले के पंचायत प्रतिनिधि बेहद गौरवान्वित हुए. प्रेक्षा गृह में संसदीय कार्यप्रणाली की जानकारी दी गई. साथ ही हैंडबुक भी दी गई, जिसमें विधानसभा के कामकाज की संक्षिप्त जानकारी मिली. सेंट्रल हाल का अवलोकन किया एवं सभागृह के भीतर जाने का अवसर भी मिला. जहाँ उन्होंने मुख्यमंत्री, विस अध्यक्ष, पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के संबंध में जाना.

मंत्रालय भवन पहुंचे बिलासपुर जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने प्रशासनिक एवं सचिव ब्लाक का अवलोकन किया. अधिकारियों-कर्मियों को कामकाज करते देखा और व्यवस्थाओं से परिचित हुए.

मंत्रालय भवन पहुंचे बिलासपुर जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने प्रशासनिक एवं सचिव ब्लाक का अवलोकन किया. अधिकारियों-कर्मियों को कामकाज करते देखा और व्यवस्थाओं से परिचित हुए.

अनुसूचित जाति-जनजाति विकास विभाग के भव्य हाल में काम करते अधिकारी-कर्मी.  प्रशासनिक एवं सचिव खंड में स्थापित कार्यालय. मुंगेली जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने मंत्रालय का अवलोकन किया.

अनुसूचित जाति-जनजाति विकास विभाग के भव्य हाल में काम करते अधिकारी-कर्मी. प्रशासनिक एवं सचिव खंड में स्थापित कार्यालय. मुंगेली जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने मंत्रालय का अवलोकन किया.

प्रदेश की प्रशासनिक व्यवस्था का महत्वपूर्ण दफ्तर, भव्य मंत्रालय भवन देखने और यहाँ की व्यवस्था समझने के लिए कोरिया जिले के पंचायत प्रतिनिधि पहुंचे. यहाँ रजिस्ट्रार श्री भगवान सिंह कुशवाहा ने उन्हें मंत्रालय की संरचना की जानकारी दी. आदिम जाति-जनजाति विकास विभाग में भ्रमण करते उन्होंने अधिकारी-कर्मियों का कामकाज देखा. रैम्प पर चढकर वे पांचवी मंजिल तक पहुंचे और विभिन्न कक्ष देखे.

प्रदेश की प्रशासनिक व्यवस्था का महत्वपूर्ण दफ्तर, भव्य मंत्रालय भवन देखने और यहाँ की व्यवस्था समझने के लिए कोरिया जिले के पंचायत प्रतिनिधि पहुंचे. यहाँ रजिस्ट्रार श्री भगवान सिंह कुशवाहा ने उन्हें मंत्रालय की संरचना की जानकारी दी. आदिम जाति-जनजाति विकास विभाग में भ्रमण करते उन्होंने अधिकारी-कर्मियों का कामकाज देखा. रैम्प पर चढकर वे पांचवी मंजिल तक पहुंचे और विभिन्न कक्ष देखे.

छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर यानि विज्ञान के अभिनव प्रयोगों का स्थल, यहाँ भ्रमण के लिए आए कोरबा एवं कोरिया जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने देखी प्रदर्शनी. उड़ती गेंद, अनंत कुआं, जादुई पानी का नल, मजाकिया दर्पण एवं अन्य अविष्कारों का अवलोकन कर वे बेहद खुश हुए. बस्तर के पारम्परिक आभूषण एवं वाद्य यंत्रों को देखकर वे हर्षित हुए.

छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर यानि विज्ञान के अभिनव प्रयोगों का स्थल, यहाँ भ्रमण के लिए आए कोरबा एवं कोरिया जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने देखी प्रदर्शनी. उड़ती गेंद, अनंत कुआं, जादुई पानी का नल, मजाकिया दर्पण एवं अन्य अविष्कारों का अवलोकन कर वे बेहद खुश हुए. बस्तर के पारम्परिक आभूषण एवं वाद्य यंत्रों को देखकर वे हर्षित हुए.

नया रायपुर स्थित नन्दन वन जंगल सफारी की सैर करने मुंगेली एवं जांजगीर-चांपा  जिले के पंच-सरपंच पहुंचे. जहाँ उन्होंने सफारी में हिरणों और बाघ को स्वच्छन्द विचरते देखा. भालू एवं नीलगाय देख वे बेहद हर्षित हुए. टाइगर ब्वाय चेंदरू की आकर्षक प्रतिमा ने उन्हें खूब लुभाया.

नया रायपुर स्थित नन्दन वन जंगल सफारी की सैर करने मुंगेली एवं जांजगीर-चांपा जिले के पंच-सरपंच पहुंचे. जहाँ उन्होंने सफारी में हिरणों और बाघ को स्वच्छन्द विचरते देखा. भालू एवं नीलगाय देख वे बेहद हर्षित हुए. टाइगर ब्वाय चेंदरू की आकर्षक प्रतिमा ने उन्हें खूब लुभाया.

छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे बिलासपुर जिले के पंच-सरपंचों ने प्रेक्षा गृह में प्रोजेक्टर पर सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही देखी. विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में जाना. सदन के भीतर पहुंचना उनके लिए बेहद सुखद अनुभव रहा. जहाँ उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा. सेंट्रल हाल का अवलोकन कर वे बेहद हर्षित हुए.

छत्तीसगढ़ विधानसभा पहुंचे बिलासपुर जिले के पंच-सरपंचों ने प्रेक्षा गृह में प्रोजेक्टर पर सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही देखी. विधानसभा की संरचना, प्रथम सत्र एवं समिति के सम्बन्ध में जाना. सदन के भीतर पहुंचना उनके लिए बेहद सुखद अनुभव रहा. जहाँ उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं पक्ष-विपक्ष के विधायकों की बैठक व्यवस्था के बारे में जाना-समझा. सेंट्रल हाल का अवलोकन कर वे बेहद हर्षित हुए.

नया रायपुर में स्थापित पुरखौती मुक्तांगन पहुंचे रायगढ़ जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने देखा बस्तर के जनजीवन को उल्लेखित करता आमचो गाँव. जनजातीय परम्पराओं का जीवंत चित्रण, सुदूर जंगल में बसे गाँव की परिकल्पना में जैसे पूरा माहौल रम जाता है.

नया रायपुर में स्थापित पुरखौती मुक्तांगन पहुंचे रायगढ़ जिले के पंचायत प्रतिनिधियों ने देखा बस्तर के जनजीवन को उल्लेखित करता आमचो गाँव. जनजातीय परम्पराओं का जीवंत चित्रण, सुदूर जंगल में बसे गाँव की परिकल्पना में जैसे पूरा माहौल रम जाता है.

Pinterest
Search