Pinterest • The world’s catalogue of ideas

तन्हा है दुनियाँ की भीड़ में हम ना ठिकाना, है मंज़िल की तलाश में हम मिलेगा कभी तो खोया संसार हमारा पल-पल इसी ख़्वाब को सजोये हुए अभी नींद से जागे नहीं है हम.. समझा था जिसे अपना सहारा छोड़ चला वो हमें बेसहारा किसी के साथ चलने का जज़्बा लिए परछाइयों को साथ लिए जिए जा रहे है हम अभी नींद से नहीं जागे है हम..

Transformation of English Poem O Blue Sky in Hindi. A poem which will fill your heart with the beauty of blue sky and the experience of Advaita.

આંખને પણ થાક લાગ્યો પણ અલગ રીતે જરા, તેથી પરસેવાને બદલે આંસુના ટીપા પડ્યા. आँखोंको भी थकान लगी कुछ अजीब तरीके से… पसीने के बदले अश्रु की बुँदे गिर पड़ी ...!!!

Marathi Prem Kavita

Marathi Prem Kavita berarti puisi Cinta