Pinterest • The world’s catalogue of ideas

इश्क़ को मज़बूरियाँ ले डूबती हैं ,

3 Pins24 Followers

इश्क़ को मज़बूरियाँ ले डूबती हैं ज़माने की , गोया फ़ितरतन कोई बेवफ़ा नहीं होता । किसी को ग़म किसी को मौज ए रोज़गार मिला , किसी के मुफ्लिशी

इश्क़ को मज़बूरियाँ ले डूबती हैं ज़माने की , गोया फ़ितरतन कोई बेवफ़ा नहीं होता । किसी को ग़म किसी को मौज ए रोज़गार मिला , किसी के मुफ्लिशी

इश्क़ को मज़बूरियाँ ले डूबती हैं ज़माने की , गोया फ़ितरतन कोई बेवफ़ा नहीं होता । किसी को ग़म किसी को मौज ए रोज़गार मिला , किसी के मुफ्लिशी