Pinterest • The world’s catalogue of ideas

ग़म ए ख्वाहिश के बुलबुलों,

3 Pins24 Followers

ग़म ए ख्वाहिश के बुलबुलों की नज़ाक़त देखो , आँसुओं में पिघल जाते हैं शाम ए महफ़िल में पहुचने के बाद । शबनम से भिगोया कभी पुरनम से भिगो डाला ,

ग़म ए ख्वाहिश के बुलबुलों की नज़ाक़त देखो , आँसुओं में पिघल जाते हैं शाम ए महफ़िल में पहुचने के बाद । शबनम से भिगोया कभी पुरनम से भिगो डाला ,

ग़म ए ख्वाहिश के बुलबुलों की नज़ाक़त देखो , आँसुओं में पिघल जाते हैं शाम ए महफ़िल में पहुचने के बाद । शबनम से भिगोया कभी पुरनम से भिगो डाला ,