Pinterest • The world’s catalogue of ideas

तन्हा खून जम रहा है,

3 Pins23 Followers

तन्हा खून जम रहा है वादी ए गुल की रंगत का , दो चार आदम ए लम्स की गरमाहट मिले तो फिर से बाहर आ जाये ।अधखुली पलकों के झीने चिलमन से , सुनहर

तन्हा खून जम रहा है वादी ए गुल की रंगत का , दो चार आदम ए लम्स की गरमाहट मिले तो फिर से बाहर आ जाये ।अधखुली पलकों के झीने चिलमन से , सुनहर

तन्हा खून जम रहा है वादी ए गुल की रंगत का , दो चार आदम ए लम्स की गरमाहट मिले तो फिर से बाहर आ जाये ।अधखुली पलकों के झीने चिलमन से , सुनहर