तल्खियां लाख सही,

8 Pins28 Followers
तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

तल्खियां लाख सही रिश्तों में, दोस्ती की पहल की खातिर दिलों का भी एक दौरा होना चाहिए । खिज़ा खिज़ा है समां रंग ओ बू भी फ़िज़ा से ग़ायब है,

beloved death was a matter of limitation, Two moments of quiet sleep in the arms of two. Smile of lips as simply roasting your impudence

beloved death was a matter of limitation, Two moments of quiet sleep in the arms of two. Smile of lips as simply roasting your impudence

Pinterest
Search