निगाहों निगाहों में,

5 Pins27 Followers
निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

निगाहों निगाहों में ग़र दर्द को पनाह मिले तो , गोया इसे मोहब्बत का नाम देना इल्ज़ाम ए बेवफ़ाई होगी । सोयी पड़ी रात में ज़ालिम ने दिल चुराया

Pinterest
Search