जो भयानक है वो कुछ छीन नहीं सकता,जो आकर्षक है वो कुछ दे नहीं सकता। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #fear #attraction Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

जो भयानक है वो कुछ छीन नहीं सकता,जो आकर्षक है वो कुछ दे नहीं सकता। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #fear #attraction Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

मन की दौड़ ही मन का बंधन है। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #mind #bondage Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

मन की दौड़ ही मन का बंधन है। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #mind #bondage Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

सत वो है, जो नित्य है । कभी ठहरता नहीं कभी रुकता नहीं, जो समय के पर है । सत्संग का अर्थ है- नित्य के साथ  होना । कुछ समय के लिए नहीं , नित्य । ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant  #Advait #time #truth Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

सत वो है, जो नित्य है । कभी ठहरता नहीं कभी रुकता नहीं, जो समय के पर है । सत्संग का अर्थ है- नित्य के साथ होना । कुछ समय के लिए नहीं , नित्य । ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #time #truth Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

जब प्रीतम के मंदिर जाते हैं, तब सीढ़ियाँ नहीं गिनी जातीं, प्रेम के पंखों पर उड़कर आया जाता है। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #love #ego #freedom Read at:- prashantadvait.com Watch at:-www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:-www.advait.org.in Facebook:-www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:-www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:-https://twitter.com/Prashant_Advait

जब प्रीतम के मंदिर जाते हैं, तब सीढ़ियाँ नहीं गिनी जातीं, प्रेम के पंखों पर उड़कर आया जाता है। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #love #ego #freedom Read at:- prashantadvait.com Watch at:-www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:-www.advait.org.in Facebook:-www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:-www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:-https://twitter.com/Prashant_Advait

मन खाली रखो और खाली मन बहुत समझता है । खाली मन बिल्कुल ध्यान में होता है । उस ध्यान से जो उचित कर्म होना है वो अपने आप हो जाता है, तुम्हारी ज़रुरत ही नहीं पड़ती । उसी का नाम किस्मत है । ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #action #destiny Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

मन खाली रखो और खाली मन बहुत समझता है । खाली मन बिल्कुल ध्यान में होता है । उस ध्यान से जो उचित कर्म होना है वो अपने आप हो जाता है, तुम्हारी ज़रुरत ही नहीं पड़ती । उसी का नाम किस्मत है । ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #action #destiny Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

ये बिल्कुल झूठी बात है कि दुःख में इंसान भगवान को याद करता है| दुःख में क्या याद आता है ? दुःख में हम सुख को याद करते हैं, सत्य को नहीं| ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #sorrow #happiness #duality #ego #sad  Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

it is freedom from both happiness and sadness

डर जब बाहर की ओर बहता है तो हिंसा के रूप में दिखाई देता है और हिंसा जब अपने ही मन पर छा जाती है तो वो डर के रूप में दिखाई देती है । ~ श्री प्रशांत  #ShriPrashant #Advait #mind #fear Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

डर जब बाहर की ओर बहता है तो हिंसा के रूप में दिखाई देता है और हिंसा जब अपने ही मन पर छा जाती है तो वो डर के रूप में दिखाई देती है । ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #mind #fear Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

मौन वो है जो लगातार है। जो शब्दों के होते हुए भी है , जो शब्दों के न होते हुए भी है।ठीक वैसे ही जैसे मन में भविष्य के, अतीत के विचार आते-जाते रहते हैं , लेकिन वर्त्तमान सदा है । ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #silence Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

मौन वो है जो लगातार है। जो शब्दों के होते हुए भी है , जो शब्दों के न होते हुए भी है।ठीक वैसे ही जैसे मन में भविष्य के, अतीत के विचार आते-जाते रहते हैं , लेकिन वर्त्तमान सदा है । ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #silence Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

जीवत मिरतक होय रहै, तजै खलक की आस। रच्छक समरथ सद्गुरु, मति दुख पावै दास || ~कबीर Kabir

जीवत मिरतक होय रहै, तजै खलक की आस। रच्छक समरथ सद्गुरु, मति दुख पावै दास || ~कबीर Kabir

जो एक बात हर पल बोली जा सकती है और सही हो, वो मौन है| ~प्रशान्त त्रिपाठी Prashant Tripathi

Posts about Hindi on Acharya Prashant - Words into Silence

Pinterest
Search